Falahari vyanjan ceela recipe Total Post View :- 1026

Falahari singhare ke aate ka cheela recipe in hindi.

Falahari singhare ke aate ka cheela recipe in hindi. फलाहारी व्यंजनों में सिंघाड़े का आटा बहुत पसंद किया जाता है। फिर चाहे सिंघाड़े की बर्फी हो या सिंघाड़े की भजिया। यह बहुत ही पौष्टिक व ताकतवर होता है। अपने देखा होगा कि फलाहार में उन्हीं चीजों को शामिल किया गया है जो बहुत ही फायदेमंद होती हैं। क्योंकि रोजमर्रा की जिंदगी में हम जो भी खाते हैं उसमें जो कमियां रह जाती है उसे ये फलाहारी भोजन पूरी कर देते हैं। जिनमे इतनी अधिक कैलोरी होती है कि एक बार सेवन करने पर भी पूरा दिन निराहार रहा जा सकता है। आज हम आपको ऐसे ही पौष्टिक फलाहार सिंघाड़े के आटे का चीला बनाना बताएंगे। साथ ही यह भी बताएंगे कि सिंघाड़े का आटा खाने के क्या फायदे हैं । तो सबसे पहले जानते हैं।

  • सिंघाड़े का आटा खाने के फायदे। benefits of eating singhara flour.
  • फलाहारी सिंघाड़े के आटा का चीला की सामग्री। ingredients of Falahari singhare ke aate ka cheela.
  • सिंघाड़े का आटा का चीला बनाने की विधि। Falahari singhare ke aate ka cheela recipe in hindi.

सिंघाड़े का आटा खाने के फायदे। benefits of eating singhara flour.

पानी मे पाया जाने वाला यह फल पोषक तत्वों से भरपूर होता है।

इसमें विटामिन-ए, सी, मैंगनीज, थायमाइन, कर्बोहाईड्रेट, टैनिन, सिट्रिक एसिड, रीबोफ्लेविन, एमिलोज,

फास्फोराइलेज, एमिलोपैक्तीं, बीटा-एमिलेज, प्रोटीन, फैट और निकोटेनिक एसिड,

जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं.

सिंघाड़े में मौजूद आयोडीन, मैग्नीज जैसे मिनरल्स ,घेंघा रोग, थायरॉयड से बचाव करने में सहायक हैं।

डॉक्टर्स के मुताबिक सिंघाड़ा नियमित रूप से खाने से सांस संबधी समस्याओं में आराम मिलता है.

गर्भवती स्त्रियों के गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए यह बहुत फायदेमंद होता है।

अस्थमा के रोगी व दुर्बल शरीर को स्वस्थ बनाता है। ठंड के शुरू होते ही यह फल बाजार में आना शुरू हो जाता है।

इसका छिलका निकालकर बीजों को सुखाकर आटा बनाया जाता है।

यह बहुत ही उपयोगी व गुणकारी होता है।

आज हम आपको Falahari singhare ke aate ka cheela कैसे बनाते है बताएंगे।

फलाहारी सिंघाड़े के आटा का चीला की सामग्री। ingredients of Falahari singhare ke aate ka cheela.

  1. 250 ग्राम सिंघाड़ा का आटा।
  2. ककड़ी का किस 1 कटोरी।
  3. अदरक 2 इंच।
  4. हरी मिर्च 5-6
  5. हरी धनिया पत्ती।
  6. जीरा
  7. सेंधा नमक स्वाद अनुसार।

Falahari singhare ke aate ka cheela recipe in hindi.

1- सर्वप्रथम अदरक, हरी मिर्च, धनियां पत्ती एवं जीरे के एक साथ मिक्सी में पीस लें।

2- सिंघाड़ा आटा में किसा हुआ ककड़ी मिलाएं।

3- अब इसमें अदरक हरी मिर्च का पेस्ट मिलाएं।

4- नमक मिलाकर आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर
घोल तैयार करें।

5- तवे को आंच में गर्म करके थोड़ा सा तेल डालें।

6- चम्मच की सहायता से घोल को तवे में फैलाएं। दोनों तरफ से सेके ।

7- गर्मागरम हरी मिर्च की चटनी के साथ सर्व करें। यह सबसे जल्दी बनने वाली रेसिपी है।

http://Indiantreasure. in

Khandavi recipe in hindi step by step ; गुजराती खांडवी रेसिपी!

टेस्टी वेटलॉस खिचड़ी रेसिपी ! शूगर पेशेंट भी खा सकते हैं !

चाय का मसाला कैसे बनाते हैं : जानिए मसाला चाय रेसिपी!

हरी मूंग का डोसा लाजवाब रेसिपी, बनाने में आसान और खाने में मजेदार !

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!