वास्तु शास्त्र और फ्रिज ; किस दिशा में फ्रिज रखना चाहिए ! Total Post View :- 1983

वास्तु शास्त्र और फ्रिज ; किस दिशा में फ्रिज रखना चाहिए !

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर और फ्रिज का बड़ा गहरा संबंध है जो व्यक्ति के पूरे जीवन को प्रभावित करता है। यह तो सभी जानते हैं कि दिशाओं का अपना महत्व होता है और प्रत्येक दिशा एक विशेष प्रकार की एनर्जी को लिए हुए होती है । मुख्यतः दिशाएं चार होती हैं और चार ही कोण होते हैं ।

इस प्रकार कुल आठ दिशाएं मानी जाती हैं। जिसमें उत्तर, दक्षिण, पूरब पश्चिम और उत्तर-पूर्व का कोण (ईशान कोण), दक्षिण-पूर्व का कोण (आग्नेय कोण), को और दक्षिण-पश्चिम का कोण ( नैऋत्य कोण) एवं पश्चिम-उत्तर का कोण ( वायव्य कोण) कहलाता है।

आज की आधुनिकतम जीवन शैली में फ्रिज लगभग सभी घरों की आवश्यकता बन चुका है। ऐसे में वास्तु शास्त्र के अनुसार फ्रिज किस दिशा में रखना चाहिए जिससे उस दिशा का संपूर्ण लाभ घर के सदस्यों को प्राप्त हो सके। यह जानना आवश्यक है। अतः आज ऐसी ही जानकारी के साथ यह लेख प्रस्तुत है ।

वास्तुशास्त्र के नियम !

  • किसी भी वस्तु का स्थान नियत करते हुए सबसे पहले उस वस्तु में उपस्थित एनर्जी का ध्यान रखना चाहिए।
  • उसके बाद वह वस्तु जिस एनर्जी को अपने में रखे हुए हैं उसे उसी एनर्जी वाली दिशा में रखा जाना चाहिए ।
  • जिससे उसका दोगुना लाभ प्राप्त किया जा सके ।
  • अब यह जान लें कि प्रत्येक इलेक्ट्रिक उपकरण अग्नि के सूचक होते हैं ।
  • अर्थात उसमें अग्नि तत्व की प्रधानता होती है। ऐसे में उपर्युक्त इलेक्ट्रिक उपकरणों को अग्नि कोण में रखा जाना चाहिए।
  • किंतु घर में बहुत से इलेक्ट्रिक उपकरण होते हैं सभी एक ही जगह नहीं रखे जा सकते ।
  • ऐसी स्थिति में घर की अन्य दिशाएं भी उक्त वस्तु को रखने के लिए उपयोग में लाई जाती हैं।

फ्रिज को किस दिशा में रखना चाहिए जाने किचन का वास्तु शास्त्र !

  • सर्वप्रथम फ्रिज को रखने की सर्वोत्तम दिशा आग्नेय कोण होती है।
  • किंतु यदि उक्त स्थान पर ना रखा जा सके तब दूसरी दिशा वायव्य कोण मानी गई है।
  • चूंकि फ्रिज में अग्नि तत्व के साथ-साथ वायु तत्व की भी प्रधानता होती है ।
  • क्योंकि उसमें गैस भी होती है अतः इसे वायव्य कोण में भी रखना उत्तम माना जाता है।
  • यह दोनों स्थितियां ना होने पर पूर्व, दक्षिण व पश्चिम दिशा में भी फ्रिज को रखा जा सकता है।
  • इस प्रकार फ्रीज रखने के लिए पूर्व, दक्षिण और पश्चिम इन तीनों दिशाओं का प्रयोग किया जा सकता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर में फ्रिज को किस दिशा में नहीं रखना चाहिए !

  • वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर में फ्रिज को घर में रखते समय इस बात का अवश्य ध्यान रखना चाहिए कि इसे ईशान कोण में कभी भी ना रखें।
  • क्योंकि फ्रिज एक भारी वस्तु होती है और ईशान कोण में हमेशा स्थान को खाली या हल्का रखा जाना चाहिए।
  • फ्रिज को उत्तर दिशा में भी कभी नहीं रखना चाहिए।
  • क्योंकि इस दिशा में रखने पर फ्रिज का मुख दक्षिण की ओर होगा और दक्षिण सबसे नकारात्मक दिशा मानी जाती है।
  • ऐसे में फ्रिज के खुलते और बंद होते समय दक्षिण दिशा से नकारात्मक ऊर्जा फ्रिज में प्रवेश कर जाती है ।
  • जो परिवार के सभी लोगों को प्रभावित करती है ।
  • इस दिशा में मुख करके रखा गया फ्रिज भरा होने पर भी घर में खाने की कमी होती है।
  • तथा ऐसे भोजन को करने से घर के सदस्यों में बीमारी बनी रहती है।

निष्कर्ष !

  • इस प्रकार छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर हम दिशाओं के सकारात्मक प्रभाव का उपयोग अपने जीवन में कर सकते हैं ।
  • वास्तु शास्त्र और फ्रिज में आपने जाना कि फ्रिज को किस दिशा में रखना चाहिए।
  • व किस दिशा में नहीं रखना चाहिए।

ऐसी ही अन्य रोचक जानकारियों के लिए देखते रहें आपकी अपनी वेबसाइट

http://Indiantreasure. in

संबंधित लेख भी अवश्य पढ़ें

Spread the love

One thought on “वास्तु शास्त्र और फ्रिज ; किस दिशा में फ्रिज रखना चाहिए !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!