झाड़ू का वास्तु शास्त्र ; झाड़ू कब खरीदें, कैसे इस्तेमाल करें व टोटके ! Total Post View :- 1768

झाड़ू का वास्तु शास्त्र ; झाड़ू कब खरीदें, कैसे इस्तेमाल करें व टोटके !

झाड़ू का वास्तु शास्त्र इसे कब कब खरीदे कैसे इस्तेमाल करें इसके उपाय या टोटके क्या है। जी हाँ वास्तु शास्त्र केे शास्त्र के अनुसार घर के प्रत्येक छोटे-छोटे सामान को रखने का एक निश्चित स्थान होता है। और उस निश्चित स्थान पर रखने पर वह वस्तु ज्यादा समय तक अच्छे से कार्य करती है। तथा हमें समय पर उस वस्तु का पूरा सहयोग मिल पाता है।

किस दिन खरीदें झाड़ू, कहां रखें और कैसे इस्तेमाल करें और कब उसे घर से निकालना चाहिए और क्या झाड़ू के संबंध में भी कोई उपाय (टोटके) होते हैं। आज इन्हीं विषयों पर हम चर्चा करेंगे ।

झाड़ू सुनने में तो बहुत छोटी सी चीज मालूम पड़ती है लेकिन सही ढंग से इस्तेमाल करने पर यह आपकी भाग्य को भी चमका सकती है। और इसका गलत उपयोग आपको दरिद्र भी बना सकता है ।

झाड़ू का महत्व ( वास्तु शास्त्र ) !

  • वास्तु शास्त्र में झाड़ू का घर मे विशेष स्थान होना चाहिए इसे लक्ष्मी का रूप माना जाता है ।
  • घर में होने वाले क्लेश, आमदनी में रुकावट तथा धन की कमी होना यह सभी लक्षण इससे संबंधित होते हैं।
  • इसीलिए धनतेरस के दिन झाड़ू को खरीद कर उसकी पूजा की जाती है।

झाड़ू के वास्तु टिप्स !

  • झाड़ू को हमेशा छुपा कर रखना चाहिए।
  • जिस तरह हम घर के धन और जेवर को छुपा कर रखते हैं ठीक उसी तरह झाड़ू को भी छुपा कर रखना चाहिए।
  • यह किसी भी बाहर आने वालों की नजर में नहीं पड़नी चाहिए ।
  • झाड़ू को कभी भी सोफे के नीचे, पीछे तथा पलंग के पीछे और नीचे नही रखना चाहिए।
  • इसे रुपया पैसा रखने वाली अलमारी के पीछे भी नहीं रखना चाहिए।
  • किचन, स्टोर रूम तथा पूजा घर में भी झाड़ू नहीं रखना चाहिए।

झाड़ू को रखने का नियम ( वास्तु शास्त्र )!

  • घर का दक्षिण-पश्चिम कोना झाड़ू रखने के लिए उत्तम स्थान माना जाता।
  • दूसरा स्थान पश्चिम दिशा माना गया है। यदि पश्चिम दिशा में भी खुला स्थान नहीं है।
  • तब ऐसी स्थिति में झाड़ू को किसी कपड़े में लपेटकर रखना चाहिए ताकि किसी की नजर उस पर ना पड़े।
  • झाड़ू को कभी भी पैर नहीं मारना चाहिए और ना ही उसे लांघ कर या जंप करके जाना चाहिए ।
  • ऐसा करने से आप बदकिस्मती को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।
  • झाड़ू से कभी भी किसी पशु या छिपकली, कॉकरोचों , चूहा आदि को नहीं मारना चाहिए इससे भी बैडलक आता है ।
  • बिस्तर को कभी भी झाड़ू से साफ नहीं करना चाहिए।
  • सुबह उठते ही सबसे पहले पूरे घर में झाड़ू लगा लेना चाहिए। ऐसे घर में कभी भी धन की कमी नहीं आती।
  • किन्तु सूर्यास्त के बाद कभी भी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।
  • यदि कभी लगाना भी पड़े तो ऐसे में निकले हुए कूड़े को बाहर नहीं फेंकना चाहिए।

झाड़ू का इस्तेमाल ( वास्तु शास्त्र )!

  • झाड़ू को हमेशा लेटा कर या सुला कर ही रखना चाहिए ।
  • कभी भी इसे खड़े करके उल्टा या सीधा नहीं रखना चाहिए
  • इससे घर में पैसों का नुकसान होता है और संबंधों में तनाव पैदा होता है।
  • बाथरूम में उपयोग किया जाने वाला सींक वाला झाड़ू (खरेटा) भी कभी भी खड़ा करके या टांग कर नहीं रखना चाहिए।
  • उसे भी लेटा कर या सुलाकर ही रखना चाहिए ।
  • इसी तरह पोछा वाली बाल्टी और डंडी वाला पोंछा भी कभी भी बाहर खुले में टांग कर या लटका कर नहीं रखना चाहिए।
  • उसे भी सब की नजर से छुपा कर हो सके तो लेटा कर ही रखना चाहिए ।

झाड़ू के टोटके या उपाय !

  • जब भी कभी आप पुराने घर से नए घर में आते हैं, ऐसे में यदि पुराना घर आपके लिए बहुत फलदाई रहा हो ।
  • तो ऐसे में उस घर की झाड़ू लेकर नए घर में प्रवेश करना चाहिए ।
  • और तब नए घर में नई झाड़ू खरीद कर उसका इस्तेमाल करने के बाद पुरानी झाड़ू को कहीं फेंक देना चाहिए।
  • लेकिन पुरानी झाड़ू से नए घर को नहीं झाड़ना चाहिए।
  • किंतु यदि पुराना घर आपके लिए मुसीबतों का कारण रहा हो और इसी कारण वह घर छोड़ना पड़ा हो ।
  • तो ऐसी स्थिति में उस घर से झाड़ू लेकर कभी भी नए घर में नहीं आना चाहिए ।

विशेष टोटके या उपाय !

  • किसी भी अमावस्या के एक दिन पहले झाड़ू घर लेकर आएं।
  • और अमावस्या के दिन स्वयं अपने हाथों से अपने घर की सफाई करें ।
  • फिर पुरानी झाड़ू को किसी सफाई कर्मचारी को दे दें।
  • प्रत्येक अमावस्या इस तरह करने से कोई भी समस्या जीवन की हो और धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है।
  • दूसरा टोटका इस प्रकार है की शनिवार के दिन तीन झाड़ूूूूूू एक साथ खरीद कर लाएं।
  • और रविवार के दिन सुबह-सुबह किसी मंदिर या देवस्थान में उसे दे आएं।
  • इस प्रकार करने से जीवन की कोई भी समस्या हो वह धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है।
  • झाड़ू हमेशा जोड़े में खरीद कर लाए। 4 झाड़ू से ज्यादा कभी भी ना खरीदें।
  • इसमें सींक वाली (खरेटा) और फूल वाली दोनों झाड़ू शामिल होनी चाहिए।
  • एक्स्ट्रा झाड़ू को कभी भी छत पर नहीं रखना चाहिए। इससे घर में नुकसान या चोरी हो सकती है ।
  • मुख्य दरवाजे के पीछे कभी भी झाड़ू को नहीं रखना चाहिए।
  • घर के किसी अन्य दरवाजे के पीछे झाडू को लिटा कर रख सकते हैं। किंतु झाड़ू किसी को दिखनी नहीं चाहिए।

झाड़ू को खरीदने के नियम !

  • झाड़ू को मंगलवार या शनिवार के दिन ही खरीदना चाहिए।
  • इसे शुक्रवार के दिन भी खरीदा जा सकता है।
  • इसी तरह खराब या पुरानी झाड़ू को यदि अच्छी हालत में है तो किसी सफाई कर्मचारी को दे सकते हैं ।
  • अन्यथा इसे पूरी तरह से तोड़कर घर से दूर बाहर ले जा कर फेंक देना चाहिए ताकि इसे कोई और इस्तेमाल ना कर सके।
  • नई झाड़ू को खरीदने के बाद उसे दीवाल पर पटक कर साफ नहीं करना चाहिए।
  • बल्कि उसके पकड़ने वाले हिस्से को गीले कपड़े से पोंछकर साफ कर लेना चाहिए ।
  • और झाड़ू को भी इसी तरह अच्छे से साफ कर लेना चाहिए।

आपने पढ़ा झाड़ू का वास्तु शास्त्र ; झाड़ू को कब खरीदें, कैसे इस्तेमाल करें, झाड़ू के नियम, टोटके व उपाय को । आशा है यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। इसे अवश्य शेयर करें।

इसी तरह के अन्य रोचक जानकारियों के लिए देखते रहें आपकी अपनी वेबसाइट

http://Indiantreasure. in

संबंधित पोस्ट भी अवश्य पढ़ें

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!