गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने के फायदे ! Total Post View :- 2575

गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने के फायदे !

गर्म पानी के फायदे के बारे में हम सभी जानते हैं । किंतु इसमें पैरों को डुबोकर रखने से होने वाले लाभ जानकर आप चकित हो जाएंगे। यह प्राकृतिक चिकित्सा का एक अंग है।

इस लेख में हम प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने के फायदे , गर्म पानी का उपाय व शरीर पर इसका प्रभाव , गर्म पानी से सिकाई के विभिन्न रोगों में फायदे, पैरों को गर्म पानी में डुबोने का तरीका और गर्म पानी का उपयोग कब व कैसे करना चाहिए के बारे में बताएंगे।

यह जानकारी आपको अवश्य काम आएगी। प्राकृतिक चिकित्सा को अपनाकर आप जरूर लाभान्वित होंगे। तो अब शुरू करते हैं ।

गर्म पानी का उपाय व शरीर पर इसका प्रभाव !

  • जब हम गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखते हैं तब इससे हमारे शरीर का तापक्रम गर्म होने लगता है।
  • तथा ब्लड का सरकुलेशन ऊपर से नीचे की ओर बहने लगता है।
  • जिससे शरीर के सारे ब्लॉकेज खुल जाते हैं और नसों में रक्त का प्रवाह तेजी से होने लगता है ।
  • तथा जगह जगह रुका हुआ कफ भी पिघल कर शरीर से बाहर होने लगता है ।
  • हमारे शरीर से पसीने के रूप में सारे टॉक्सिंस बाहर निकल जाते हैं।
  • एवं सिकाई के पश्चात शरीर से उत्पन्न गर्मी के कारण यूरिन होती है।
  • जिसके जरिए भी शरीर से सारे विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं ।
  • इस प्रकार यह हमारे शरीर को शुद्ध कर देता है।
  • आइए अब जानते हैं कि यह गर्म पानी कौन-कौन से रोगों को ठीक कर सकता है।

गर्म पानी से सिकाई के निम्न रोगों में फायदे !

  • नियमित रूप से गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने से जिन्हें हमेशा जुकाम की शिकायत होती है ,
  • या एलर्जी होती है , दमा अस्थमा या कफ की शिकायत होती है उनका कफ पिघलकर बाहर निकल जाता है
  • और कफ की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर है और हॄदय संबंधी बीमारियां हैं वह भी पैरों को गर्म पानी में डुबोकर रखने से दूर हो जाती है।
  • घुटना, पैरदर्द, तलवे, मांस पेशियों का दर्द, कंधों का दर्द, जकड़न, आदि
  • यह सभी दर्द पैरों को गर्म पानी में रखने से दूर हो जाते हैं।
  • गर्दन की जकड़न, सर्वाइकल, कान में दर्द, कान में कम सुनाई देना,
  • तरह-तरह की आवाजें आना जैसी समस्याएं भी नियमित रूप से गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने से दूर हो जाती है।
  • सिर दर्द और माइग्रेन से संबंधित रोग भी दूर होते हैं क्योंकि सिर दर्द और माइग्रेन तभी होता है,
  • जब सिर से जुड़ी हुई रक्त वाहिनियों में कफ रुक जाता है या फिर गैस सिर में चढ़ जाती है।
  • जो कि गर्म पानी में पैरों को रखने से दूर हो जाती है।
  • पाचन तंत्र की कमजोरी, कब्ज, गैस, एसिडिटी भी इस प्राकृतिक चिकित्सा के प्रयोग से धीरे धीरे ठीक हो जाते हैं।
  • पैरों में आई थकावट और दर्द गर्म पानी में सेंधा नमक डालकर रखने से दूर हो जाते हैं।

पैरों को गर्म पानी में डुबोने का तरीका !

  • गर्म पानी में पैरों को डुबोने के लिए एक बाल्टी में आधा बाल्टी गर्म पानी लें और पैरों को पिंडली तक डुबा लें।
  • गर्मी के दिन हो तो अपने पूरे शरीर को सूती चादर से ढक ले । ताकि गर्म पानी से उत्पन्न गर्मी से शरीर भी गर्म हो सके।
  • गर्मी के दिनों में लगभग 15 मिनट तक गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखना चाहिए।
  • ठंड के दिनों में गर्म पानी में पैर डुबोने के पश्चात ऊपर से गर्म शॉल लपेट ले।
  • ठंड के दिनों में लगभग 25 मिनट तक गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखना चाहिए।

गर्म पानी का उपयोग कब व कैसे करना चाहिए !

  • वैसे तो गर्म पानी में पैरों को डुबोकर सुबह, दोपहर, शाम कभी भी रखा जा सकता है।
  • किंतु इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि नाश्ता करने की एक से डेढ़ घंटे बाद ,
  • और भोजन के लगभग ढाई से तीन घंटे बाद गर्म पानी में पैर रखना चाहिए।
  • क्योंकि भोजन या नाश्ता करने के बाद हमारे शरीर की ऊर्जा भोजन के पाचन में लग जाती है ।
  • ऐसे समय यदि हम पैरों को गर्म पानी में डालकर बैठते हैं तो यह पाचन में विघ्न पैदा करती है।
  • अल्सर, हिस्टीरिया, हाई बीपी, लो बीपी के मरीज को डॉक्टर के परामर्श के अनुसार ही इस क्रिया को करना चाहिए।

प्राकृतिक चिकित्सा से संबंधित यह लेख गरम पानी के फायदे आपको अच्छा लगा हो तो इसे अवश्य शेयर करें।

पोस्ट से संबंधित कोई सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में अवश्य कमेंट करें।

ऐसी महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए देखते रहे आपकी अपनी वेबसाइट

http://Indiantreasure. in

संबंधित लेख भी अवश्य पढ़ें

Spread the love

2 thoughts on “गर्म पानी में पैरों को डुबोकर रखने के फायदे !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!