कैसे करें परीक्षा की तैयारी! Total Post View :- 494

कैसे करें परीक्षा की तैयारी!

कैसे करें परीक्षा की तैयारी! टाइमटेबल! में अध्ययन के कुछ तरीके आपको मिलेंगे। जो इस परिस्थिति में मददगार होंगे।

कोरोना के संकटकाल के साथ ही परीक्षा का संकट बच्चों के सामने आ पड़ा है। जिससे 10वीं से 12वीं के बच्चे जूझ रहे हैं।

जिसे अपनाकर आप इस परीक्षा के चक्रव्यूह को आसानी तो तोड़ सकेंगे। व परीक्षा में अच्छे से सफल हो सकेंगे।

यदि हमने कोई अच्छे कार्य का निश्चय किया है तो हमारा कर्तव्य है। कि उसकी शुरूआत को एकदम लाजवाब बना दें।

इसलिए हमें अपने दिन की शुरूवात अच्छी करना चाहिए,व अपने दिन को जल्दी शुरू करना चाहिए।

इस आर्टिकल में आप पाएंगे;

  • दिन की शुरुआत कैसे करें।
  • पहले सिटिंग।
  • फर्स्ट ब्रेक।
  • दूसरी सीटिंग।
  • सेकंड ब्रेक।
  • तीसरी सीटिंग।
  • थर्ड ब्रेक
  • चौथी सिटिंग।
  • फोर्थ ब्रेक।
  • पांचवी सीटिंग।
  • गहरी नींद

1-दिन की शुरुआत ऐसे करें! Start day like this!

  • सर्वप्रथम सुबह उठकर मेडिटेशन करें। मेडिटेशन से आपका दिमाग बहुत तेज होता है।
  • कम से कम 15 मिनट मेडिटेशन करे। उसके बाद आप अपना अध्ययन चालू कर दें।
  • आप 4:00 बजे से लेकर 7:00 बजे तक 3 घण्टे की एक सीटिंग कर सकते हैं ।
  • 3 घंटे तक हमें जितना हो सके बैठने का प्रयास करना चाहिए । क्योंकि परीक्षा का समय भी 3 घंटे का रहता है
  • ऐसा अभ्यास करने से ज्यादा देर तक बैठने की आपकी आदत हो जाएगी। जिससे परीक्षा में मदद मिलेगी।

2- पहली सीटिंग लें! Take the first seating!

  • अब 4:00 से 7:00 की पहली सीटिंग में जो विषय सबसे ज्यादा कठिन लगे सबसे पहले उसी को करना चाहिए।
  • सुबह हमारा दिमाग क्योंकि खुला रहता है और सुबह का माहौल ही ऐसा रहता है,कि सबकुछ जल्दी समझता है।
  • और कठिन विषय भी अच्छे से बन जाते हैं। इस समय मस्तिष्क की ग्रहण क्षमता भी ज्यादा रहती है।
  • तीन घण्टे की एक सीटिंग के बाद आप थोड़ा टहल लें। कम से कम आधे घंटे का ब्रेक लेने का प्रयास करें ।
  • यह ब्रेक आपके मानसिक व शारीरिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है अन्यथा ब्रेक के बिना सब निष्फल हो जाएंगा।

3- फर्स्ट ब्रेक में यह करें! Do it in the first break!

  • पढ़ाई के लिए ब्रेक का भी निश्चित समय बनाएं और उस ब्रेक में जो आपकी प्रिय कार्य या शौक को उसको करें।
  • किन्तु सोशल मीडिया से दूर रहें। अन्यथा सारा पढ़ा हुआ भूल जाएंगे। जिससे मानसिक तनाव होगा।
  • अतः ब्रेक में शारीरिक रूप से खेले जाने वाले खेल या संगीत, नृत्य, पेंटिंग, ड्राइंग आदि करें।
  • यदि आपको लिखने में मजा आता है तो आप कुछ शायरी लिखे कुछ पोयम लिखें ।
  • आपको जिस तरह की एक्टिविटी में मजा आता है वह करें। ब्रेक में लम्बा न सोएं । लेट सकतें है ।

इसे भी पढें? कैसे बनें आत्म निर्भर; जानिए 11 टिप्स! How to become self dependent; Know 11 tips!

4-दूसरी सीटिंग लें! Take second seating!

  • ब्रेक के बाद आप 8:00 बजे फिर से अपनी स्टडी के लिए बैठ जाएं। और दूसरी सीटिंग लें।
  • अब जो सबसे पसंदीदा सब्जेक्ट है वह लेकर बैठ जाएं और इन तीन घंटों में आप उस सब्जेक्ट को पढें।
  • अब आपने एक कठिन सब्जेक्ट पढ़ लिया है तो अब आप थोड़ा सरल विषय लें।ताकि दिमाग को आराम मिले।
  • या ऐसा विषय लें जिसे पढ़ने में आपको मजा आए । साथ ही यह याद रखें, कि 3 घंटों का बहुत बढ़िया उपयोग हो।
  • ऐसा न हो कि आप इन तीन घण्टों मे केवल बैठे रहे तो ऐसे तीन घंटों का कोई मतलब नहीं रहा।

5- सेकेण्ड ब्रेक में यह करें! Do it in second break!

  • तो अब आप लेने वाले हैं 1 घंटे का ब्रेक जो बहुत जरूरी है क्योंकि अभी तक आप 6 घंटे तक पढ़ चुके हैं।
  • अब तक आपका मस्तिष्क भी बहुत वर्क कर चुका है अतः उसको भी रिलैक्स देने की आवश्यकता है।
  • भोजन करने के 10 मिनट बाद 15 मिनट बाईं करवट लेकर लेट जाएं। जिससे भोजन आसानी से पच जाए।
  • अन्यथा भोजन के पश्चात आलस्य आता हैं क्योंकि शरीर की सारी ऊर्जा भोजन को पचाने में लग जाती है।
  • अतः सेकेंड ब्रेक कम से कम 1 से 1- 1/2 घण्टे का अवश्य होना चाहिए। आधे घण्टे की नींद भी ले सकते हैं।

6- तीसरी सीटिंग लें! Take the third seating!

कैसे करें परीक्षा की तैयारी ? टाइम टेबल बनाये! 
  • सेकेंड ब्रेक के बाद थर्ड सीटिंग के लिए तैयार हो जाएं। 1:00 बजे से 4:00 बजे तक 3 घंटे की सीटिंग करें।
  • और इस सीटिंग में आप मीडियम कठिन सब्जेक्ट लीजिए ना बहुत कठिन ना बहुत आसान।
  • आपका इस समय अच्छा दिमाग भी चलेगा , क्योंकि लंबे ब्रेक के बाद आप तरोताजा हो गए है।
  • इस बीच प्रत्येक घण्टे में पानी पीना न भूलें । पानी शरीर मे ऑक्सीजन की कमी नही होने देगा।
  • ऑक्सीजन दिमाग के लिए अत्यंत आवश्यक है, जो आपके मस्तिष्क को हरदम स्फूर्तिवान बनाती है।

7-थर्ड ब्रेक में यह करें! Do it in third break!

  • थर्ड ब्रेक 2 घंटे का होना चाहिए , क्योंकि धीरे-धीरे हमारा शरीर और मस्तिष्क थकने लगता है । (शाम 6 बजे तक).
  • ऐसे में ताजी हवा में पहले सांस ले, घूमे फिरे थोड़ा सा खेल कूद भी करें। तथा शरीर और मन को तनाव से मुक्त करें।
  • क्योंकि सूर्य की रोशनी के समाप्त होते होते हमारे शरीर की ऊर्जा भी धीरे धीरे समाप्त होने लगती है
  • ऐसे में मस्तिष्क पर ज्यादा जोर देना नुकसानदायक हो सकता है अतः2 घंटे का पूरा विश्राम दिमाग को अवश्य दें।
  • शाम के समय मे ( ब्रेक में ) भगवान की आराधना जरूर करें, इससे मन को शांति मिलती है ।

इसे भी पढें ?टॉपर कैसे बनें ; अध्ययन के सूत्र ! How to become a topper; Study Tips!

7- चौथी सीटिंग लें! Take the fourth seating!

  • चौथी सीटिंग दो घण्टे की लें। इस समय मन मस्तिष्क सब थकने लगते हैं। अतः हल्के विषय लें।
  • जितना सुबह से अभी तक पढ़ा है , उसी को रिकॉल करें। जो विषय आपने पढे हैं उन्हें दोहराना जरूरी है।

क्योंकि अब समय परीक्षा का है, अतः जो पढें वह अंतिम तैयारी ही होनी चाहिए। इस तरह आपके मन का भय “कैसे करें परीक्षा की तैयारी!” दूर हो जाएगा।

  • प्रतिदिन के लक्ष्य से नियत जो विषय छूट जाएं, उसे इस चौथी सीटिंग मे पूर्ण करें।
  • कोई भी नया चेप्टर नये दिन की पहली सिटिंग में ही शुरू करें। दिन के अंत मे नये विषय की शुरुआत न करें।

8- फोर्थ ब्रेक में यह करें! Do this in the fourth break.

  • अब तक 8 बज चुके हैं, अब भोजन कर लें। थोड़ा टहलें। सबके साथ मिलें बैठें। ब्रेक एक घण्टे का ही होगा।
  • अतः इस ब्रेक का सावधानी से उपयोग करें। क्योंकि आप भोजन कर चुके हैं ।दिनभर की थकान भी है।
  • अभी एक छोटी सी सीटिंग बाकी है।अतः नींद व आलस्य से बचें। थोड़ा बहुत मनोरंजन अवश्य करें ।
  • किन्तु ध्यान हमेशा अपने लक्ष्य पर ही रखें। यह भी ध्यान रहे कि ब्रेक का समय आगे न बढ़े।
  • सीटिंग व ब्रेक दोनों ही अलार्म लगाकर ही सेट करें। व निश्चित समय पर आवश्यक रूप से उठ जाएं।

9- पाँचवी सीटिंग ले! Take fifth seating!

  • अब नौ बजे चुके हैं। पाँचवी सीटिंग भी दो ही घण्टे की लें। इसमें जो सुबह से अभी तक पढ़ा है उसे ही याद करें।
  • रिकॉल की ये दो सीटिंग अत्यंत महत्वपूर्ण है।जो आपको आपकी तैयारी से अवगत कराती है।
  • जिस तरह बाहर घूमने जाते समय, सामानों की पैकिंग की जाती है, ठीक वैसे ही जरूरी विषय सामग्री एकत्र करें।
  • व दिमाग मे विषयों को सुरक्षित व एकत्रित करें, ताकि समय आने पर ये विषय रिकॉल पध्दति से बाहर आ सकें।
  • आपकी पूरी मेहनत इसी पैकिंग पर टिकी है, यदि पैकिंग अच्छी है, तो सब चीजें आवश्यकता पड़ने पर मिलेंगी।

10- गहरी नींद लें!

  • अब सब कुछ व्यवस्थित कर सोने की तैयारी करें। अध्ययन के साथ साथ गहरी नींद लेना भी बहुत आवश्यक है।
  • जब आप सोते हैं तब दिमाग दिनभर की याद व तैयार की गई चीजों को व्यवस्थित करता है।
  • नींद कितनी लें यह जरूरी नहीं। जरूरी यह है कि नींद गहरी होनी चाहिए।
  • अपने कार्य व शारीरिक आवश्यकता के अनुसार ही नींद लें। शरीर व मन को नियंत्रित रखने के लिए  अच्छी नींद आवश्यक है।
  • सोते समय सुबह एक निश्चित समय पर उठने का संकल्प लेकर सोएं। यह सुबह जल्दी उठने में मदद करेगा।

अंत मे यही सलाह दूंगी की यह आपकी लड़ाई है। दूसरे की ताकत और दूसरे के हथियार आपके काम नही आएंगे।

अतः अपने जीवन की योजना स्वयं तैयार करें। मार्गदर्शन अवश्य लें । किन्तु कभी कभी कुछ बातें प्रेक्टिकल नही लगती। तब भी विचार अवश्य करें व विवेक से काम लें।

दूसर यह कि पढ़ाई कितने घण्टे की गई, यह मायने नही रखता। अपितु कितनी एकाग्रता से पढ़ाई की यह मायने रखता है। अतः ऊपर बताई सिटिंग को स्वयं के अनुसार ढालने के प्रयास करें।

आशा करती हूं इस आर्टिकल ?  “कैसे करें परीक्षा की तैयारी!” से आपको अपने अध्ययन रूटीन बनाने में अवश्य मदद मिलेगी।

अतः जोरों से अपने अध्ययन में लग जाएं। मेहनत करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है। 

यदि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगे तो अपने दोस्तों को भी अवश्य शेयर करें। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए अवश्य देखें ।?

http://Indiantreasure.in

इसे पढें ?योगनिद्रा क्या है? फायदे व क्रियाविधि!

समय पर सोना व समय पर उठना वैसे ही निश्चित व आवश्यक व अटल बनाये। जैसे सूर्य का निकलना व अस्त होना होता है।

पढ़ते समय प्रतिदिन का लक्ष्य तय करें व जब तक लक्ष्य पूरा न हो पूरी लगन से जुटे रहें।कभी भी कोई टॉपिक अधूरा न छोड़ें।

तैयारी के बीच मे कभी भी विषय से हटकर कुछ न सोचें। न ही परीक्षा के परिणाम के बारे में सोचें।

तैयारी अच्छी करें परिणाम निश्चित ही अच्छे आएंगे। अपने प्रयास व अभ्यास में निरंतरता जरूर रखें।

प्रत्येक तीन घंटे की सीटिंग में प्रति 40 मिनट के बाद 5-7 मिनट का शार्ट ब्रेक अवश्य लें। यह अत्यंत आवश्यक है।

निरन्तर किया गया अभ्यास शत-प्रतिशत सफलता दिलाता है। आशा है। आप सफल जरूर होंगे।

✍️श्रीमती रेखा दीक्षित, एडवोकेट, सहस्त्र धारा रोड, देवधरा, मण्डला।?यह आलेख पूर्णतः मौलिक व स्वरचित है।??

Spread the love

6 thoughts on “कैसे करें परीक्षा की तैयारी!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!